सैराट फ़िल्म मराठी फ़िल्म उद्योग को एक अलग ऊंचाई पर ले गई। इस फ़िल्म ने मराठी फ़िल्म उद्योग के लिए फ़िल्म बनाने के तरीके पर एक बेंचमार्क स्थापित किया है। नागराज मंजुले के निर्देशन में बनी यह फ़िल्म एक अलग ऊंचाई पर पहुंच गई।

इस फ़िल्म को देश-विदेश में खूब देखा गया था। विदेशों में भी फ़िल्म ने अच्छी कमाई की। इस फ़िल्म को नेशनल अवॉर्ड भी मिला था। इस फ़िल्म में एक्ट्रेस रिंकू राजगुरु को नेशनल अवॉर्ड भी मिला था। फ़िल्म ने अच्छा बिज़नेस किया।

बाद में इस फिल्म को धड़क नाम से हिंदी में भी बनाया गया। इस फ़िल्म में श्रीदेवी की बेटी जाह्नवी कपूर नज़र आई थीं। हालांकि यह फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर अच्छा प्रदर्शन करने में असफल रही थी। सैराट फ़िल्म के बाद आर्ची को अच्छे ऑफर्स मिलने लगे।

रिंकू राजगुरु का जन्म 3 जून 2001 में महाराष्ट्र के अकलुजू शहर में हुआ था। निर्देशक नागराज मंजुले ने उन्हें सातवीं कक्षा में एक कार्यक्रम में देखा था। उसके बाद उन्होंने उनके पिता यानी महादेव राजगुरु से रिंकू की फ़िल्म में अभिनय के बारे में पूछा। उसके बाद राजगुरु ने मंजुले को हामी भर दी। इसके बाद फ़िल्म सैराट की शूटिंग शुरू हुई।